भगवान के नाम पर हैवान बने भाई ने मां दुर्गा को चढ़ाई बहन की बलि, 2018 में भी आहुति मर्डर के केस में हुआ था गिरफ्तार

0
146

ओडिशा के बोलंगीर जिले के एक शख्स को सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया। शख्स पर आरोप है कि उसने देवी को चढ़ावे के नाम पर अपनी ही 12 साल की बहन की बली चढ़ा दी। जनानी राना नाम की बच्ची 24 दिसंबर को अपने 28 साल के भाई शुभोबन राना के साथ पास के नौपाड़ा जिले के खैरियार कस्बे गई थी। लेकिन जब जनानी नहीं लौटी तो उसके परिवार ने सिंधेकाला पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। हालांकि गांव वालों के संदेह था कि बच्ची के गायब होने के पीछे शुभोबन का ही हाथ है। क्योंकि साल 2018 में वह पहले ही मानव बलि के मामले में पकड़ा गया था और जमानत पर बाहर था।

ऐसे में गांव वालों ने सिंधकाला पुलिस स्टेशन को घेर लिया और शुभोबन की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। इसके बाद पुलिस ने शुभोबन से पूछताछ की। पूछताछ में उसने कबूल किया कि उसने अपनी बहन की बलि देकर मां दुर्गा को भेंट चढ़ाई है। पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार किया और बच्ची के शव को तलाशने के लिए जंगल में अपनी टीम भेजी। पुलिस को बच्ची का सिरकटा शरीर मिला। बोलंगीर जिले के एसपी मदकर संदीप संपत ने बताया कि  शुभोबन और उसके साथी कुंजा को साल 2018 के अक्टूबर में उसकी 9 साल की भतीजी तो बलि चढ़ाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। शुभोबन कुछ ही दिन पहले जमानत पर बाहर आया था। 

बच्ची के पिता मुसूरू राना ने अपने ही हत्यारे बेटे के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। गौरतलब है कि बलि देने जैसे चीजें आज भी की आदिवासी इलाकों में बोती रहती हैं। ओडिशा के कंदमल जिले के कांद में ये आम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here