पृथ्वी में कितने अंदर तक छेद किया जा सकता है, जानिए

0
114

आज के समय में विज्ञान पढ़ने वाले लोगों के दिमाग में इस बात को लेकर सवाल चलते हैं की पृथ्वी में कितने अंदर तक छेद किया जा सकता हैं। आज इसी विषय में वैज्ञानिकों के अनुसार जानने की कोशिश करेंगे की पृथ्वी में कितने अंदर तक छेद किया जा सकता हैं। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से।

भूगर्भ वैज्ञानिकों के अनुसार हमारी पृथ्वी का केंद्र 6371 किलोमीटर गहरा हैं और यदि इतनी गहराई तक हम कोई भी गड्ढा खोद सकें तो पृथ्वी के ऊपरी सतह से पृथ्वी के केंद्र तक पहुंचने में हमें 1 घंटा 45 मिनट का समय लग जाएगा। आपको बता दें की पृथ्वी के सबसे ऊपर कि जो लेयर होती है वही 70 किलोमीटर गहरी होती है ।

इसके बाद दूसरी लेयर की शुरूआत हो जाती हैं। आज के वर्तमान समय में आधुनिक टेक्नोलॉजी अभी इतनी विकसित नही है कि हम इतनी गहराई तक पहुंच सकें।

हालांकि इसे नामुमकिन नहीं माना जा सकता हैं। भविष्य में इसे किया जा सकता हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो अगर पृथ्वी के आरपार छेद करना है तो 12742 किलोमीटर का फासला तय करना होगा जो आज के समय मे लगभग नामुमकिन है।

आपको बता दें की पृथ्वी पर अब तक का सबसे गहरा गढ़ा रूस में 1989 में खोदा गया था। जिसकी गहराई 12262 मीटर थी। उस गहराई में टेंपरेचर 180 डिग्री तक पहुंच गया जिसकी वजह से ये गढ़ा खोदने का काम बंद कर दिया गया था। क्यों की इसके आगे काफी दिक्कत आ रही थी। हाल ही में एक तेल का कुआं रूस में ही खोदा गया जिसकी गहराई 12376 मीटर है। ये पृथ्वी का सबसे गहरा छेद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here